Friday, October 4, 2019

इंजन कुलिंग सिस्टम क्या है - What is engine cooling system

आज हम आपको इस लेख में "इंजन कूलिंग सिस्टम क्या है" के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। यदि आप एक ड्राइवर हैं, तो आप जानते हैं कि वाहन का महत्वपूर्ण हिस्सा इंजन है और इंजन को ओवरहीटिंग से बचने के लिए इंजन कूलिंग सिस्टम का उपयोग किया जाता है। तो चलिए इस लेख से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़ें।



इंजन कुलिंग सिस्टम क्या है


इस लेख में, हम जानेंगे कि इंजन कूलिंग सिस्टम क्या है? और इसका उपयोग कहां किया जाता है? इसके अलावा कुलिंग सिस्टम के प्रकार, शीतलन प्रणाली क्या है? साथ ही, इंजन शीतलन प्रणाली से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी इस लेख के माध्यम से हिंदी में प्रस्तुत की जा रही है। खुशी है कि यह लेख आप लोगो को पसंद आयेगा।

इंजन कुलिंग सिस्टम क्या है - What is engine cooling system


वाहन में कई भाग होते हैं जो घर्षण या हिट के कारण खराब होने की अधिक संभावना होती है। ऐसे समय में, ऑब्जेक्ट को ओवरहीटिंग से बचाने के लिए वाहन में युग्मन प्रणाली (cooling system) का उपयोग किया जाता है। थर्मल गठन जो तब होता है जब वाहन के इंजन दहन कक्ष में ईंधन की दहन प्रक्रिया होती है। यह गर्मी इंजन के विभिन्न भागों में प्रेषित होती है।


इंजन में ईंधन का दहन हवा में परिवर्तित हो जाता है, जो इंजन हेड, सिलेंडर हेड, सिलेंडर वाल्व, पिस्टन आदि को बड़ी मात्रा में गर्मी पहुंचाता है। अगर यह गर्मी बंद नहीं हुई तो ये हिस्से गर्म या जल सकते हैं। है। पिस्टन इंजन में झिलमिलाहट कर सकता है। इस कारण से, इंजन की दक्षता भी कम हो सकती है। यह सब नहीं होना चाहिए और इसे रोकने के लिए, इंजन के बाहरी भाग से इंजन को ठंडा करने के लिए जो प्रक्रिया की जाती है उसे इंजन कूलिंग सिस्टम कहा जाता है।

कुलिंग सिस्टम के प्रकार (Types of cooling systems)


प्रत्येक वाहन में युग्मन प्रणाली का उपयोग किया जाता है। लेकिन यह प्रणाली केवल इंजन वाले वाहनों में उपयोग की जाती है। क्योंकि प्रत्येक इंजन की ईंधन प्रणाली अलग है, वाहन के इंजन की सुरक्षा के लिए युग्मन प्रणाली का उपयोग किया जाता है। जिस तरह दो तरह के वाहन इंजन होते हैं जैसे पेट्रोल इंजन और डीजल इंजन, वैसे ही दो प्रकार के कूलिंग सिस्टम होते हैं। वह निम्नलिखित है।
  • एयर कुलिंग सिस्टम (Air cooling system)
  • वाटर/कूलैंट कुलिंग सिस्टम (Water/coolent cooling system)

एयर कुलिंग सिस्टम (Air cooling system)


एयर कूलिंग सिस्टम इस प्रणाली का उपयोग दो स्ट्रोक और चार स्ट्रोक एकल सिलेंडर इंजन में किया जाता है। इस प्रणाली में, सिलेंडर ब्लॉक का सतह अनुभाग मौसम के अधिक संपर्क में है, इसलिए सिलेंडर के सिलेंडर हेड और सिलेंडर ब्लॉक पर पंख लगाए जाते हैं। यह पंख की बाहरी रिंग है और सीधी है। इसके कारण, इंजन द्वारा बनाई गई गर्मी बड़े हिस्से से नुकीले बिंदु तक जल्दी से बह जाती है।

यह जल्द ही ठंडा हो जाता है क्योंकि इसके पंख पतले होते हैं। इसी तरह इंजन प्रत्येक पंख के माध्यम से हवा के माध्यम से ठंडा होता है और पावर स्ट्रोक उत्पन्न करने के लिए गर्मी को बाहर फेंका जाता है। इस तरह से दहन कक्ष में तापमान नियंत्रित होता है।

एयर कूलिंग सिस्टम यह इंजन ब्लॉक एल्यूमीनियम मिश्र धातु से बनाया गया है। क्योंकि एल्युमीनियम एक ऐसा पदार्थ है जिससे गर्मी जल्दी नष्ट हो जाती है। अगर हम सिलेंडर लाइनर के बारे में बात करते हैं, तो यह कच्चा लोहा से बना है। यह इंजन को शीतलन प्रणाली के माध्यम से ठंडा करने में मदद करता है।


वाटर/कूलैंट कुलिंग सिस्टम (Water/coolent cooling system)


वाटर कुलिंग सिस्टम को केवल चार पहिया वाहनों में ही उपयोग किया जाता है। इसका उपयोग इंजन ब्लाक का सिलिंडर ठंडा रखने के लिए किया जाता है, इसके लिए सिलिंडर ब्लाक पर वाटर जैकेट्स तैयार किये जाते है। जिससे इंजन ब्लाक का सिलिंडर ठंडा होता है। इस वाटर जैकेट में रेडिएटर से आने वाले पानी याने कुलेंट को घुमाया जाता है।

उसके बाद रेडिएटर के सामने वाला भाग पंखेके हवे से ठंडा किया जाता है। उसी तरह रेडिएटर के उपरी भाग का गरम पानी पखेके हवे से और एक्सचेंजर की मदत से ठंडा किया जाता है। यह ठाडा पानी रेडिएटर के निचले हिस्से में जमा होता है और उसके बाद वाटर पंप की मदत से पानी (Coolent) जैकेट की ओर भेजा जाता है। वैसे ही इंजन का तापमान नियंत्रित करने के लिए थर्मोस्टेट का इस्तेमाल किया जाता है। पानी से इंजन को ठंडा करने की क्रिया को वाटर कुलिंग सिस्टम काहा जाता है।

इंजन वाटर कूलिंग सिस्टम में कौन से घटक होते हैं?


इंजन वाटर कुलिंग सिस्टम में कई अलग-अलग हिस्से होते हैं, ये सभी घटक पानी की आपूर्ति और इंजन के पानी के ठंडा होने का महत्वपूर्ण कार्य करते हैं। जल शीतलन प्रणाली में निम्नलिखित घटक होते हैं। उनके नाम नीचे दिए गए हैं।
  • वाटर पंप 
  • रेडिएटर 
  • फैन 
  • वाटर जैकेट्स 
  • टेम्प्रेचर इंडिकेटर 
  • फैन बेल्ट 
  • होज पाइप 
  • सिलिंडर ब्लाक 
  • गैस्केट 
  • सिलिंडर हेड 
  • प्रेशर कैप इत्यादि। 
उपर्युक्त दिए गए सभी घटक वाहन के इंजन कोअधिक उष्णता से बचाने का महत्वपूर्ण काम करते है। यह सभीघटककेवल चार पहिया या हैवी वाहनों में इस्तेमाल किये जाते है।



अनमोल शब्द 

प्रिय पाठकों, हमें खुशी है कि यह लेख "इंजन कूलिंग सिस्टम क्या है" कई लोगों के लिए उपयोगी साबित हुआ है। अगर किसी के पास इस लेख से जुड़ा कोई सवाल है तो हमें कमेंट करें और आपको यह लेख पसंद आया है, तो इसे अपने परिचितों और सहपाठियों के साथ साझा करें।

धन्यवाद

No comments: