Thursday, February 14, 2019

स्क्रब टायफस के लिए हमे कौनसा उपचार करना चाहिए। (Scrub typhus ke liye hame kounsa upchaar karna chahiye .)

स्क्रब टायफस बिमारी कैसी होती है। (Scrub typhus bimaari kaisi hoti hai .)

 स्क्रब टायफस के लिए हमे कौनसा उपचार करना चाहिए। (Scrub typhus ke liye hame kounsa upchaar karna chahiye .) स्क्रब टायफस बीमारी की पहचान क्या है। (Scrub typhus bimaari ki pahchaan kya hai .) What treatment should we do for scrub typhus? What is the identification of scrub typhus disease?

स्क्रब टायफस बिमारी की जानकारी

हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सब मेरा नाम राज है मैं www.indiandewacom में लेख लिखता हु। मैंने आप सब के लिए बहोत बार अच्छे अच्छे लेख लिखा हु जो की आप सब के लिए काफी फायदेमंद साबित हुए ही होंगे। इस बार मैं आप सब के लिए बहुत ही महत्त्वपूर्ण लेख लिख रहा हु जो की हम सब के लिए बहुत जरुरी है।


स्क्रब टायफस से बचने के उपाय और महत्वपूर्ण जानकारी 

दोस्तों स्क्रब टायफस के बारे में आप जानते ही होंगे वह एक खतरनाक बिमारी है। परंतु हम सब को यह पता नहीं है की इससे बचे कैसे और क्या है इसके उपाय। मैं आपको बताऊंगा की इस बिमारी से कैसे बचे और क्या उपाय करे।

स्क्रब टायफस क्या है

दोस्तों स्क्रब टायफस यह ओरिएंटा सुसुगुमाशी के जीवाणु के वजह से होता है। यह बिमारी ज्यादा तर खेती किसान करने व्यक्ति को होने की संभावना रहती है। यह घास में रहने वाले पिस्सू से होता है यह पिस्सू जब वह व्यक्ति के कोई भी हिस्से काटता है तो वह अपनी लार उस व्यक्ति के शरीर में छोड़ता है। ऐसे फैलता है स्क्रब टायफस की बिमारी। इसके ज्यादा तर मरीज खेड़े गांव में मिलते रहते है।



स्क्रब टायफस होने के प्रकार 

दोस्तों हम सब को पता नहीं है की स्क्रब टायफस कैसे होता है और क्या प्रकार है।  स्क्रब टायफस होने के मुख्य प्रकार है सरदर्द, बुखार,बदनदर्द ,स्किन रैश होना ,चककर आना, स्किन पर चट्टे आना ये सभी प्रकार होते है। ये सभी चीजे किसी मरीज में दिखे तो समझ जाये की  स्क्रब टायफस से पीड़ित है। अगर हम स्क्रब टायफस के मरीज का इलाज समय पर नहीं किया जाएंगा तो मरीज की हालत ख़राब हो जाएँगी और उसकी मौत भी हो सकती है। 

स्क्रब टायफस की पहचान क्या है 

दोस्तों अगर कोई मरीज स्क्रब टायफस से पीड़ित है तो हमे उसकी पहचान होनी चाहिए ताकि हम उस पीड़ित व्यक्ति का इलाज सही समय कर सके।  स्क्रब टायफस की पहचान यह है की ओरिएंटा सुसुगुमाशी नामक कीड़ा हमारे शरीर के कोई हिस्से में काटता है तो उसमे अपनी मुँह की लार डालता है और वह अपने खून में शामिल होने से जिस जगह यह कीड़ा काटता है उसके आजु बाजू लाल कलर के चट्टे आने लगते है। यह पहचान है स्क्रब टायफस की। 


स्क्रब टायफस का इलाज 

दोस्तों बहोत से व्यक्तियों को स्क्रब टायफस का इलाज पता नहीं है जो की मैं आप सब को बताऊंगा। दोस्तों हमे पानी के साथ सबसे ज्यादा 'डॉक्सीसाइक्लिन' दवाई लेना चाहिए। अगर हम यह दवाई लेते है तो पेट में जो तकलीफ होती है ,उस तकलीफ से आराम मिलने के लिए काफी फायदेमंद है। अगर यह बिमारी गर्भवती महिला को न होना चाहिए तो हमे गर्भवती महिलाओं को ' एझिथ्रोमायसिन ' जा सकता है। दोस्तों अगर हम एंटीबायोटिक इलाज करने से हम स्क्रब टायफस के मरीज को इलाज कर सकते है। 

स्क्रब टायफस से दूर 

दोस्तों हम सब को पता नहीं है की स्क्रब टायफस से कैसे दूर रहे। तो हमे स्क्रब टायफस से दूर रहने के लिए हमे सबसे पहले झाडी झुड़पी में नहीं जाना , पालतू जानवरों की अच्छे से देखभाल करना  ताकि पालतू जानवरों में कोई पिस्सू या जंतु न हो। 


 
अगर आपको हमारा यह संदेशअच्छा लगा तो आप हमे टिप्पणी लिखकर भेजे।
धन्यवाद।

No comments: