Thursday, August 30, 2018

याद करने के लिए क्या करना चाहिए। ( Yaad karne ke liye kya karna chahiye )

याद  करने के लिए क्या करना चाहिए। ( Yaad karne ke  liye kya karna chahiye )

 यादाश्त अच्छी करने का क्या है तरीका। Yaadasht achha karni ka kya hai tarika) याद करने के लिए कोनसी आदत डालना होगा। (Yaad karne ke liye konsi aadat daalna honga.) What must be used to remember. What to do to remember.
याद करने के आसान तरीके



याद करने के आसान तरीके


हैल्लो दोस्तों आप सभी  के लिए बहुत ही अच्छी और रोमांचक बात लेकर आया हु।  जो की हम सभी के लिए बहुत ही महत्त्वपूर्ण है।  आप सभी को पता है की हम जो भी चीजे याद करने की कोशिश करते है वो हमे याद नहीं होती है। तो हम जानेंगे की याद कैसे करे और याद रखने  के लिए क्या  करना चाहिए और यह परेशानी ज्यादा तर स्कूल के छात्र के अंदर होती है। 

याद करने का सुबह वक़्त सही

आपको तो पता है ही की जब हम छोटे थे या फिर छोटे बच्चो को हमेशा उनकी मम्मी उन्हें सुबह सुबह पढ़ाई करने के लिए उठाती है। तो हमे पता रहना चाहिए की हमे हमारी मम्मी हमे क्यों सुबह पढ़ने बोलते है ताकि हमे परीक्षा में याद रहना चाहिए। सुबह पढ़ाई करने से याद करने के लिए बहुत ही योग्यकारक होता है। तो जब भी पढ़ाई करे तो आप सुबह ही करे। 


हमे कितना पढ़ना चाहिए  ➤ 

दोस्तों हम पढाई करते समय हम बहोत ज्यादा पढाई करते है परंतु हमे परीक्षा में और स्कूल में हमे याद नहीं आता है। इसका कारण यह है की हम जरूरत से ज्यादा पढाई कर लेते है और वह जल्दी याद नहीं होता है। तो आप एक वक़्त उतना ही पढ़े जितना आपको याद हो सके और आप आसानी से याद कर सकते है। 

दोहराते रहे  ➤ 

दोस्तों हम जब पढ़ाई कर रहे होते है हमे उसे दोहराते रहना चाहिए उसका कारण यह है की अगर हम दोहराएंगे नहीं तो हमने जो पढाई करी है वह हम भुल जायेंगे। तो हम अगर ऐसा करते है तो हमे याद करने में आसानी जाती है। 
 ➦ अधिक जानकारी यहाँ पढ़े।

 • नेवी सेना में अफसर बनने  के लिए हमे कैसे करना होगा आवेदन।
 •अपने बच्चो को सही राह देने के लिए क्या करना चाहिए। 
 •12वी के बाद प्रोफेशनल कोर्स की जानकारी। 
• योगा करने के क्या फायदे है ।
•  कैसे खेले साहसिक खेल।

साफ़ सफाई रखे और शांत वातावरण में पढ़े  ➤

दोस्तों आपको तो पता ही होंगे की पहले की जमाने में स्कूल की बिल्डिंग बनी नहीं होती थी तो बाहर एखादे पेड़ के नीचे बैठकर पढाई करते थे।  उसका कारण यह है की वातावरण शांत रहता था अगर हम शांत वातावरण में पढाई करते है तो हमे पढाई करने में अच्छा लगता है और मन भी लगता है।  उसके साथ अगर साफ़ सफाई अनहि रखेंगे तो हमे कोई भी विषय के बारे में जल्दी याद नहीं होगा और हमारा मन विचलित रहेंगा। तो दोस्तों हम जब पढाई कर रहे होते है उस वक़्त उस जगह को अच्छेसे साफ़ कर लेना चाहिए। उससे हमारा मानसिक मानसिक संतुलन पढाई में लगा रहेगा।


यादाश्त को मजबूत करने के लिए लिखना जरूरी  ➤

दोस्तों हमने देखा है की जब हम किसी विषय के बारे में पढाई करते है और फिर उसे याद करते है परंतु हमे याद होता नहीं है।  तो क्या करना चाहिए हमे याद करने के बाद में उस चीज को लिख लेना चाहिए। उसका कारण ऐसा है की किसी किसी को याद जल्दी नहीं होता है तो वह व्यक्ति के लिए बहुत ही आसान उपाय है।

मन को न भटकाए  ➤

दोस्तों हम जब भी कोई काम करने के बारे में सोचते है तो वह करते है।  परंतु हम जब पढ़ाई करने  के लिए बैठ थे है तो हम अपने मन को भटकाते है और उससे हम जो कुछ भी पढ़ते है या पढाई करते है तो वह हमे याद नहीं  है। जब भी आप पढ़ने के लिए बैठे तो आप अपने पास में ऐसे कोई चीज न रखे जिस से आपको परेशानी हो। और जब पढ़ाई कर रहे होते है तो हमे अपने दिमाग में सिर्फ पढाई के बारे में ही सोचना चाहिए बाकी कोई फालतू की बाते हमारे दिमाग में नहीं लाना चाहिए।

पढाई करते समय सीधा बैठना ➤ 

दोस्तों हम सब जब स्कूल जाते है तब हमे स्कूल में सीधा बैठने के लिए कहा जाता है।  आप को पता भी है क्या की हमे स्कूल में सीधा बैठने क्यों कहा जाता है तो हमे उससे बहुत फायदे है।  जैसे की हमारा पीठ का कना नहीं निकलता है और हम जब सीधा होकर पढ़ने बैठते है तो हमारा पूरा ध्यान पढाई के तरफ रहता है। और कभी भी किसी भी चीज से टेक कर ना बैठे। 

पढाई के लिए मानसिक रूप से स्वस्थ रहे 

 दोस्तों पढ़ाई करने के लिए और हम जिस विषय के बारे में पढ़ रहे है वह हमे याद रहना चाहिए तो उसके लिए मानसिक रूप से और शारीरिक रूप से स्वस्थ रहना बहुत ही अनिवार्य है।  जैसे के  रोज जल्दी सुबह उठना चाहिए और योगासन करना चाहिए।  ऐसा करने से हमे बहुत ही ताजगी महसूस होती है। 


अगर आपको हमारा यह संदेश अच्छा लगा तो आप हमे टिप्पणी लिखकर भेजे। 

धन्यवाद।  

No comments: