Tuesday, December 10, 2019

IRS ऑफिसर कैसे बने - How to become an IRS officer

Written by  
आईआरएस यह देश का एक बड़ा और सम्मानित पद है जिसे कई छात्र हासिल करना चाहते हैं। यह पोस्ट IAS, IPS और IFS के बाद सबसे महत्वपूर्ण और सबसे बड़ा पोस्ट है, यह लोक सेवा संघ UPSC का चौथा सबसे बड़ा पद है। इस पद पर काम करने वाले अधिकारी का काम केंद्रीय वित्त मंत्रालय, राजस्व विभाग के तहत प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष कर जैसे सभी प्रकार के कर संबंधी कार्य प्रस्तुत करना होता है। अगर आप भी आईआरएस अधिकारी बनना चाहते हैं तो यह लेख केवल आपके लिए है। तो चलिए आज इस लेख में जानते हैं कि IRS ऑफिसर कैसे बनें? इसके बारे में।


IRS ऑफिसर कैसे बने

IRS अधिकारी कैसे बनें? (How to become an IRS officer in Hindi) आईआरएस नौकरी कैसे प्राप्त करें, (what is the Indian Revenue Service in Hindi) भारतीय राजस्व सेवा क्या है और आईआरएस बनने की तैयारी कैसे करें, यह सब जानकारी इस लेख के माध्यम से हिंदी में प्रस्तुत की जा रही है।

IRS ऑफिसर कैसे बने - How to become an IRS officer in Hindi 


आईआरएस अधिकारी बनना इतना आसान काम नहीं है क्योंकि आज इस क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा इतनी बढ़ गई है कि यह नौकरी हासिल करना मुश्किल ही नहीं, बल्कि यह नामुमकिन है, क्योंकि जहां 100 लोगो के लिए भर्ती ली जाती हैं, वहां हजारों लोग आवेदन करते हैं। लेकिन अगर आपके पास साहस और जुनून के साथ कड़ी मेहनत करने की अच्छी क्षमता है, तो आप इसे संभव बना सकते हैं। क्योंकि इस पद पर नौकरी पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत के साथ तैयारी करनी होती है। इसके लिए आपको सबसे पहले आईआरएस यानी इंडियन रेवेन्यू सर्विस के बारे में जानना होगा। इसके बाद ही आप आईआरएस अधिकारी के लिए सही तैयारी कर पाएंगे। तो चलिए आगे बढ़ते हैं और जानते हैं कि आईआरएस ऑफिसर क्या है? इसके बारे में।


आईआरएस अधिकारी क्या है - What is an IRS officer


IAS, IPS और IFS के बाद IRS का स्थान आता है, जिसे हिंदी में भारतीय राजस्व सेवा कहा जाता है। इस पद को संभालने वाला अधिकारी केंद्रीय वित्त मंत्रालय के अधीन काम करता है, जिसका कार्य देश के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर संचालन से सम्बंधित होता है। इस पद के लिए लोक सेवा संघ द्वारा हर साल परीक्षा ली जाती है, जिसमें लगभग 500 आईआरएस अधिकारी चुने जाते हैं।

आईआरएस अधिकारी बनने के लिए शैक्षिक योग्यता - Educational qualification to become an IRS officer


आईआरएस अधिकारी बनने के लिए, आपको किसी भी स्ट्रीम से स्नातक होना चाहिए, इसके अलावा इंजीनियरिंग या कोई भी डिग्री धारक उम्मीदवार इस परीक्षा में आवेदन करने के लिए योग्य है।


आईआरएस अधिकारी के लिए आवश्यक आयु सीमा - Required age limit for IRS officer


आईआरएस अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवार की आयु सीमा अलग-अलग श्रेणियों के लिए अलग-अलग निर्धारित की गई है। जिसमें सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा 21 से 30 वर्ष के बीच निर्धारित है, वही ओबीसी वर्ग के लिए 3 वर्ष और एससी / एसटी वर्ग के लिए 5 वर्ष छुट दी गई है।

आईआरएस परीक्षा की तैयारी कैसे करें - How to prepare for irs exam


आईआरएस की सभी परीक्षाएं लोक सेवा संघ यूपीएससी द्वारा आयोजित की जाती हैं और यह परीक्षा आईएएस, आईपीएस और आईएफएस के लिए भी आयोजित की जाती है। अगर आप आईआरएस अधिकारी बनना चाहते हैं, तो आपको यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करनी होगी। इस परीक्षा की तैयारी से संबंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें। यह परीक्षा पास करने के बाद चुने गए उम्मीदवारों का मासिक वेतन 90 हजार और अतिरिक्त भत्ते भी दिए जाते है। अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे।


अनमोल शब्द 

प्रिय पाठकों, हमें खुशी है कि यह लेख "IRS ऑफिसर कैसे बनें" कई लोगों के लिए उपयोगी साबित हुआ है। अगर आपको (How to become an IRS officer in Hind) यह लेख पसंद आया है तो इसे अपने परिचितों और सहपाठियों के साथ साझा करें। इसके अलावा, यदि आप Motivational Articles, Sports Articles, Scheme Articles आदि से संबंधित जानकारी चाहते हैं, तो आप इसे हमारी वेबसाइट www.indiandewa.com पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं।

धन्यवाद

Saturday, December 7, 2019

यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कैसे करें - How to prepare for UPSC exam

Written by  
प्रत्येक छात्र अपने जीवन में किसी न किसी परीक्षा के लिए अध्ययन करता है, चाहे वह स्कूल परीक्षा, कॉलेज परीक्षा या प्रतियोगिता परीक्षा हो, प्रत्येक छात्र को प्रत्येक परीक्षा के लिए अध्ययन करना पड़ता है और उस परीक्षा को पास करने के लिए उसे तैयार होने के लिए सबसे अधिक समय देना पड़ता है। इसके अलावा कई छात्र बड़े पैमाने पर पहुचना चाहते है और इसलिए वे पड़े पद की तयारी करते है।


यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कैसे करें

ज्यादातर छात्र यूपीएससी परीक्षा में आवेदन करते हैं, लेकिन जानकारी के लिए बता दे की, इस परीक्षा को पास करना बहुत मुश्किल है और कई लोग इस परीक्षा के लिए कड़ी मेहनत करते हैं, जिनमें से कुछ सफल होते हैं और कुछ असफल। अगर आप भी UPSC की परीक्षा पास करना चाहते हैं, तो आपको भी इसकी तैयारी करनी होगी। तो, आज इस लेख में, हम आपको यूपीएससी परीक्षा की तयारी कैसे करे? इसके बारे में जानकारी देंगे। इसलिए, इस लेख को अंत तक पूरा पढ़े।

यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कैसे करें, (How to prepare for UPSC exam in Hindi) UPSC परीक्षा कैसे पास करे, (How to pass UPSC exam in Hindi) UPSC परीक्षा में आवेदन की आयुसीमा और शैक्षणिक योग्यता यह सभी जानकारी इस लेख के माध्यम से हिंदी में प्रस्तुत की जा रही है। 

यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कैसे करें - How to prepare for UPSC exam in Hindi


अगर आपने यूपीएससी परीक्षा के लिए आवेदन किया है तो आपको इस परीक्षा के लिए बहुत कुछ तैयार करना होगा, इसके लिए आपको यूपीएससी परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार परीक्षा के बारे में जानकारी होनी चाहिए। इसके लिए आपको यूपीएससी के पुराने प्रश्न पत्र खरीदने होंगे, इससे आपको यूपीएससी परीक्षा के सिलेबस के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगी।

इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद, उम्मीदवार का चयन IAS, IPS, IFS या IRS के पद के लिए किया जा सकता है। लेकिन अगर आप UPSC परीक्षा देना चाहते हैं और आप पहली बार इस परीक्षा के लिए आवेदन कर रहे हैं, तो इसके लिए आपको परीक्षा के लिए आवश्यक योग्यता और आयु सीमा के बारे में पता होना चाहिए, तभी आप इस परीक्षा में आवेदन कर सकते हैं, इसलिए, पहले हम सभी इसकी योग्यता के बारे में जानेंगे।


यूपीएससी परीक्षा में आवेदन करने के लिए आवश्यक योग्यता - Required qualification to apply in UPSC exam


यूपीएससी परीक्षा में आवेदन करने के लिए, प्रत्येक उम्मीदवार को शैक्षणिक योग्यता के अनुसार 12 वीं कक्षा के बाद किसी भी स्ट्रीम से स्नातक होना आवश्यक है। इसके अलावा, आप स्नातक के अंतिम वर्ष में यूपीएससी परीक्षा के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।

यूपीएससी परीक्षा के लिए आवश्यक आयु सीमा - Age limit required for UPSC exam


यूपीएससी परीक्षा में आवेदन के लिए प्रत्येक आवेदक की आयु सीमा श्रेणी के अनुसार निर्धारित की गई है। जिसमें से सामान्य श्रेणी के आवेदकों के लिए आयु सीमा 21 से 32 वर्ष और ओबीसी वर्ग के लिए 21 से 35 वर्ष और एससी और एसटी वर्ग के लिए 21 से 37 वर्ष रखी गई है।

यूपीएससी परीक्षा कैसे पास करें - How to pass UPSC exam


दोस्तों, यूपीएससी परीक्षा को क्लियर करने के लिए हर उम्मीदवार को कड़ी मेहनत करनी होती है क्योंकि यह परीक्षा देश की सबसे बड़ी और टफ परीक्षा होती है जिसे उत्तीर्ण करना बहुत मुश्किल होता है। लेकिन अगर आपको खुद पर भरोसा है और कड़ी मेहनत करने की क्षमता है तो आपको इस परीक्षा में पास होने से कोई नहीं रोक सकता है। बस इसके लिए आपको सही तैयारी करनी होगी। यूपीएससी परीक्षा पास करने के लिए, आपको तीन कठिन चरणों से गुजरना होगा। यदि आप उन तीन चरणों में सफलता प्राप्त कर लेते हैं तो आप IAS, IPS, IFS अधिकारी जैसे पद पर नियुक्त हो सकते हैं।

यूपीएससी की तैयारी करें और परीक्षा पास करें - Prepare for UPSC and pass the exam


यदि आप यूपीएससी परीक्षा के लिए उपस्थित होना चाहते हैं तो आपको पहले इसकी प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए और इस परीक्षा को पास करना होगा। तो चलिए सबसे पहले जानते हैं UPSC प्रारंभिक परीक्षा को कैसे पास करें? इसके बारे में।


यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा पास करें - Pass the UPSC preliminary exam


यह यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा है, जिसमें आपका एक पेपर सामान्य अध्ययन और दूसरा पेपर SCAT पर आधारित होता है। इस परीक्षा को पास करने के लिए, आपको सामान्य अध्ययन पर ध्यान केंद्रित करना होगा, इसके अतिरिक्त आपको सामान्य ज्ञान और करंट अफेयर्स पर अधिक ध्यान केंद्रित करना होगा। इस परीक्षा को पास करने के लिए, आपको 33% अंक प्राप्त करने होंगे। क्योंकि इस परीक्षा को पास करने के बाद ही आपको मुख्य परीक्षा के लिए चुना जाता है।

यूपीएससी मुख्य परीक्षा पास करें - Pass the UPSC main exam


प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद, छात्र को मुख्य परीक्षा के लिए भेजा जाता है। यह परीक्षा यूपीएससी की सबसे कठिन परीक्षा है और इसमें आपको 9 अलग-अलग विषयों के पेपर पास करने होते हैं। अध्ययन करन है। इस परीक्षा की तैयारी के लिए लगभग 1 से 2 वर्ष पर्याप्त है। लेकिन अगर आप सही योजना के साथ तैयारी करते हैं, तो आप 6 से 8 महीने में इस परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं। बस इस बात का ख्याल रखें कि आप यहां अपना समय बर्बाद न करें।


यूपीएससी साक्षात्कार परीक्षा पास करें - Pass UPSC interview exam


यह यूपीएससी की अंतिम परीक्षा है, इसमें आपको 45 मिनट दिए जाते हैं, जिसमें आपसे कई अलग-अलग विषयों पर प्रश्न पूछे जाते हैं। इस साक्षात्कार को पास करने के लिए, आपको सभी प्रश्नों के सही उत्तर देने होंगे। इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद, आपको IAS, IPS, IFS या IRS के लिए चुना जाता है।

यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करते समय इन बातों का ध्यान रखें - Keep these things in mind while preparing for UPSC exam
  • सबसे पहले आपको UPSC परीक्षा और उससे सम्बन्धित दी गई जानकारी के अनुसार सभी विषयो का अध्ययन करना होगा। 
  • जनरल नॉलेज का ज्यादा से ज्यादा फोकस करे। 
  • पढाई करते समय सही किताब चुने। ताकि आपको पढाई करने में कोई कमी न रह जाये। 
  • हर दिन न्यूज़ पेपर को पढ़े, जिसमे इकनोमिक टाइम्स, इंडियन एक्सप्रेस आदि होना चाहिए। 
  • दुसरे लोगो की मदत लीजिये, ताकि आपको सभी विषयो के बारे में सही जानकारी मिल सके। 
  • अगर आप इस तरह से तयारी करते है तो आपको UPSC परीक्षा पास कर सकते है। 
अनमोल शब्द 

प्रिय पाठकों, हमें खुशी है कि यह लेख "यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कैसे करें" कई लोगों के लिए उपयोगी साबित हुआ है, अगर आपको (How to prepare for UPSC exam in Hindi) यह लेख पसंद आया है तो इसे अपने परिचितों और सहपाठियों के साथ साझा करें। इसके अलावा, यदि आप Motivational Article, Sports Articles, Scheme Articles आदि से संबंधित जानकारी चाहते हैं, तो आप इसे हमारी वेबसाइट www.indiandewa.com पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं।

धन्यवाद

Friday, December 6, 2019

IFS ऑफिसर कैसे बनें - How to become an IFS officer

Written by  
ऐसे कई छात्र हैं जो IFS अधिकारी बनना पसंद करते हैं क्योंकि IFS सिविल सेवा आयोग द्वारा चुना गया एक उच्च-स्तरीय पद है। IFS का पूर्ण रूप भारतीय विदेश सेवा है, इसका चयन लोक सेवा आयोग UPSC द्वारा किया जाता है। इसके अलावा, UPSC द्वारा IAS, IPS, IFS और IRS अधिकारियों जैसे बड़े पदों का चयन किया जाता है। जिनमे से आज हम IFS यानि भारतीय विदेश सेवा के बारे में जानने वाले हैं।


IFS ऑफिसर कैसे बनें

IFS ऑफिसर कैसे बनें, (How to become an IFS officer in Hindi) भारतीय विदेश सेवा की नौकरी कैसे पाए, (how to get an Indian Foreign Service job in Hindi) IFS अधिकारी बनने की तैयारी कैसे करें, IFS अधिकारी के लिए आवश्यक योग्यता और आयु सीमा क्या है? यह सब जानकारी इस लेख के माध्यम से हिंदी में प्रस्तुत की जा रही है।

IFS ऑफिसर कैसे बनें - How to become an IFS officer in Hindi 


बता दें कि IFS बनने के लिए आपको कोई विशेष परीक्षा नहीं देनी होती है, क्योकि आईएफएस की परीक्षा लोक सेवा आयोग UPSC द्वारा लिया जाता है, और उसी परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद, IFS अधिकारियों को रैंक के अनुसार चुना जाता है। इसके लिए आपको लोक सेवा आयोग सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवेदन करना होगा और उस परीक्षा को पास करना होगा।

IFS अधिकारी बनने के लिए, आपको सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी, तभी आप IFS अधिकारी बन सकते हैं। इस परीक्षा को पास करने के लिए, आपको पहले इस परीक्षा और IFS पोस्ट के बारे में जानकारी प्राप्त करनी होगी और फिर सही योजना के साथ परीक्षा की तैयारी करनी होगी।

आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि IFS दो प्रकार के होते हैं जिनमें एक IFS का अर्थ है भारतीय विदेश सेवा और एक IFS का अर्थ है भारतीय वन सेवा और दोनों की परीक्षाएं लोक सेवा आयोग द्वारा ही ली जाती हैं। इसलिए आपको एक ही सिलेबस का अध्ययन करना होगा। इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद, आपको रैंक के अनुसार IFS ऑफिसर यानी भारतीय विदेश सेवा अधिकारी के लिए चुना जाता है।


भारतीय विदेश सेवा अधिकारी की नौकरी कैसे पाए - How to get Indian Foreign Service officer's job


भारतीय विदेश सेवा अधिकारी की नौकरी पाने के लिए, आपको हर साल ली जाने वाली भारतीय सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवेदन करना होगा और प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार परीक्षा पास करनी होगी, इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद ही आप IFS अधिकारी की नौकरी पा सकते हैं।

भारतीय विदेश सेवा ऑफिसर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता - Educational Qualification to become an Indian Foreign Service Officer 


शैक्षणिक योग्यता के अनुसार, उम्मीदवार को यूपीएससी द्वारा ली जाने वाली सिविल सेवा परीक्षा में आवेदन करने के लिए 12 वीं कक्षा के बाद किसी भी स्ट्रीम से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसके अलावा, स्नातक के अंतिम वर्ष में भी उम्मीदवार यूपीएससी में IFS परीक्षा के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।

भारतीय विदेश सेवा परीक्षा आवेदन के लिए आयु सीमा - Age limit for Indian Foreign Service Examination Application


UPSC परीक्षा में आवेदन करने के लिए, सामान्य उम्मीदवार को आयु सीमा के अनुसार 21 से 32 वर्ष निर्धारित की गई है, ओबीसी वर्ग के लिए 3 वर्ष और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए 5 वर्ष की छुट दी गई हैं। इसके अलावा, जम्मू-कश्मीर या भूटान, नेपाल के उम्मीदवारों को भी 5 साल की छूट दी गई है।


आवेदकों के लिए परीक्षा में शामिल होने की सीमा - Limit for applicants to appear in the exam


यूपीएससी परीक्षा में शामिल होने के लिए प्रत्येक श्रेणी की एक सीमा निर्धारित की गई है, जिसमें प्रत्येक उम्मीदवार श्रेणी के अनुसार परीक्षा दे सकता है। बता दें कि सामान्य श्रेणी के उम्मीदवार यूपीएससी परीक्षा में 6 बार और ओबीसी वर्ग के उम्मीदवार केवल 9 बार यूपीएससी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। इसके अलावा, एससी / एसटी वर्ग के लिए कोई सीमा नहीं है। वही विकलांग और आखो से कमजोर आवेदकों के लिए भी कोई सीमा नहीं है, वे अंतिम समय तक भी UPSC परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

भारतीय विदेश सेवा परीक्षा की तैयारी कैसे करें - How to prepare for Indian Foreign Service Examination


IFS यह देश का सबसे बड़ा पद है जिसे प्राप्त करने के लिए प्रत्येक छात्र को सही योजना के साथ तैयारी करनी होती है। अगर आप चाहते हैं कि आप भी एक IFS अधिकारी बनें, तो इसके लिए आपको यूपीएससी की सभी परीक्षाएं पास करनी होंगी और इसके लिए आपको एकदम सही तैयारी करनी होगी। UPSC परीक्षा की तैयारी के लिए, आपके पास सही जानकारी होनी चाहिए। परीक्षा की तैयारी कैसे करें, यह जानने के लिए यहां क्लिक करें।


अनमोल शब्द 

प्रिय पाठकों, हमें खुशी है कि यह लेख "IFS ऑफिसर कैसे बनें" कई छात्रों के लिए उपयोगी साबित हुआ है। अगर आपको (How to become an IFS officer in Hindi) यह लेख पसंद आया है, तो इसे अपने परिचितों और सहपाठियों के साथ साझा करें। इसके अलावा, यदि आप Motivational Article, Sports Articles, Scheme Articles आदि से संबंधित जानकारी चाहते हैं, तो आप इसे हमारी वेबसाइट www.indiandewa.com पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं।

धन्यवाद

Wednesday, December 4, 2019

महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (MPSC) परीक्षा की तैयारी कैसे करें - How to prepare for MPSC exam in Hindi

Written by  
महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग, जिसे ज्यादातर MPSC के नाम से जाना जाता है, यह भी UPSC जैसी सिविल सेवा परीक्षा होती है, जो केवल महाराष्ट्र राज्य तक सीमित है। यह परीक्षा महाराष्ट्र में विभिन्न विभागों के आधिकारिक पद के लिए आयोजित की जाती है। यह एक भारतीय संस्थान है जो भारतीय संविधान के अनुसार महाराष्ट्र में सिविल सेवा अधिकारियों का चयन करती है।


महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (MPSC) परीक्षा की तैयारी कैसे करें

लेकिन कई छात्रों को यह नहीं पता कि MPSC की तैयारी कैसे करें? और इसकी शुरुवात कैसे करे, तो आज हम आपको इस लेख में MPSC यानि महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग परीक्षा की तैयारी कैसे करें? इसके बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। इसलिए इस लेख को अंत तक पढ़ें।

महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) परीक्षा की तैयारी कैसे करें (How to prepare for Maharashtra Public Service Commission (MPSC) exam in Hindi) MPSC क्या है? और इसकी योग्यता क्या है, (What is MPSC? And what is its merit in Hindi) MPSC के आधिकारिक पद पर नौकरी कैसे पाए? यह सब जानकारी इस लेख के माध्यम से हिंदी में प्रस्तुत की जा रही है।

महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (MPSC) परीक्षा की तैयारी कैसे करें - How to prepare for MPSC exam in Hindi


जो छात्र MPSC की तैयारी करना चाहते हैं, उन्हें पहले महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग परीक्षा के सिलेबस के बारे में जानकारी प्राप्त करनी चाहिए, साथ ही परीक्षा में आवेदन करने के लिए आवश्यक योग्यता के बारे में भी जानकारी प्राप्त करनी चाहिए। क्योंकि इस परीक्षा में आवेदन करने के लिए प्रत्येक उम्मीदवार की आयु और योग्यता निर्धारित की गई है। इसलिए हर छात्र को इसके बारे में पहले जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए। इसलिए, सबसे पहले, हम MPSC के लिए आवश्यक योग्यता के बारे में जानेंगे।

एमपीएससी परीक्षा के लिए आवश्यक योग्यता - Essential Qualification for MPSC Exam


MPSC परीक्षा में आवेदन करने के लिए, प्रत्येक उम्मीदवार को 12 वीं के बाद किसी भी स्ट्रीम से स्नातक होना आवश्यक है। साथ ही, महाराष्ट्र के वर्तमान मामलों और इतिहास के बारे में जानकारी होनी चाहिए।


एमपीएससी परीक्षा आवेदन के लिए आयु सीमा - Age limit for MPSC exam application


आयु सीमा के अनुसार, MPSC परीक्षा में आवेदन करने के लिए सामान्य उम्मीदवार की आयु 21 से 32 वर्ष निर्धारित की गई है। इसके अलावा, एससी / एसटी श्रेणी के उम्मीदवारों को 5 साल की छूट दी गई है और ओबीसी श्रेणी के उम्मीदवारों को 3 साल की छूट दी गई है।

MPSC क्या है - What is MPSC


MPSC और UPSC दोनों का परीक्षा पैटर्न समान है, क्योंकि MPSC के परीक्षा का पाठ्यक्रम UPSC द्वारा ही लिया गया है, हालाँकि दोनों का परीक्षा पैटर्न समान है लेकिन दोनों में परीक्षा के स्तर बहुत भिन्न हैं। क्योंकि यूपीएससी परीक्षा राष्ट्रीय स्तर पर ली जाती है, जबकि एमपीएससी परीक्षा राज्य स्तर तक सीमित होती है। यदि आप एमपीएससी परीक्षा पास करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको महाराष्ट्र राज्य सेवा आयोग के परीक्षा पाठ्यक्रम के अनुसार तैयारी करनी होगी। तो चलिए जानते हैं कि MPSC परीक्षा की तैयारी कैसे करें? इसके बारे में।

MPSC परीक्षा की तैयारी कैसे करें - How to prepare for MPSC exam

  • MPSC परीक्षा की तैयारी के लिए, सबसे पहले, आप उस विषय को चुनें जो आपको आसान लगता है।
  • इसके बाद, परीक्षा की तैयारी के लिए आपको पुराने प्रश्न पत्र एकत्र करने होंगे।
  • MPSC परीक्षा पुस्तक खरीदें, आप इसे ऑनलाइन से भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • 6 वीं से 12 वीं तक की सभी एनसीईआरटी किताब प्राप्त करें और उनका अध्ययन करें।
  • हर दिन न्यूज़ पेपर पढ़ें और करेंट अफेयर्स पर अधिक ध्यान दें।
  • ज्यादा से ज्यादा सामान्य ज्ञान का अध्ययन करें।
  • हर दिन पुराने प्रश्न पत्रों को हल करने का प्रयास करें और उन प्रश्नों को नोट करें, साथ ही उन प्रश्नों को भी अलग नोट करें जिन्हें आप हल करने में असमर्थ हैं, और बाद में उन्हें हल करने का प्रयास करें, इसके लिए आप इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं।
  • उन लोगों की भी मदद लें, जिन्होंने पहले ही एमपीएससी परीक्षा दी है।
  • अगर आप इस तरह से तैयारी करते हैं तो आपको MPSC परीक्षा पास करने से कोई नहीं रोक सकता है।

एमपीएससी परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद उम्मीदवार की नियुक्ति - Appointment of candidate after passing MPSC examination


एमपीएससी परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद, उम्मीदवार को रैंक के अनुसार A, B या C समूह पद के लिए चुना जाता है। जिसे विभिन्न विभागों में विभाजित किया गया है।

A-समूह पद :- डिप्टी कलेक्टर, पुलिस उपाधीक्षक, उप जिला रजिस्ट्रार, सहकारिता, डिप्टी इंजीनियर, डिप्टी सीईओ, सहायक कार्यकारी अभियंता, सहायक अभियंता, बिक्री कर आयुक्त, पशुधन विकास अधिकारी, मुख्य अधिकारी, नगर पालिका, खंड विकास अधिकारी, वित्त और खाता अधिकारी, उप प्रभागीय कृषि अधिकारी, सहायक विद्युत निरीक्षक, विद्युत निरीक्षक, उप अधीक्षक भू अभिलेख, वन संरक्षक आदि।

B-समूह पद :- खंड विकास अधिकारी, सहायक अभियंता, उद्योग अधिकारी, मुख्य अधिकारी, सर्कल कृषि अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, नायब तहसीलदार, तालुका कृषि अधिकारी आदि।

C-समूह पद :- सहायक मोटर वाहन निरीक्षक, कर सहायक, क्लर्क-टाइपिस्ट, आदि।

MPSC परीक्षा के लिए इन बातों का ध्यान रखें

  • एमपीएससी परीक्षा में आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को महाराष्ट्र का नागरिक होना चाहिए।
  • उम्मीदवार की मेमोरी पावर अच्छी होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार की तार्किक क्षमता अच्छी होनी चाहिए।
  • किसी भी स्थिति पर सोच-समझकर निर्णय लेने की अच्छी क्षमता होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार को दृढ़ निश्चयी होना चाहिए।
  • किसी भी सवाल का जवाब सोच-समझकर देने की क्षमता होनी चाहिए।
  • साक्षात्कार परीक्षा के दौरान आत्मविश्वास से भरपूर रहना चाहिए।

अनमोल शब्द 

प्रिय पाठकों, हमें खुशी है कि यह लेख "महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (MPSC) परीक्षा की तैयारी कैसे करें" कई लोगों के लिए उपयोगी साबित हुआ है। अगर आपको (How to prepare for Maharashtra Public Service Commission (MPSC) exam in Hindi) यह लेख पसंद आया है तो इसे अपने परिचितों और सहपाठियों के साथ साझा करें। इसके अलावा, यदि आप Motivational Articles, Sports Articles, Scheme Articles आदि से संबंधित जानकारी चाहते हैं, तो आप हमारी वेबसाइट www.indiandewa.com पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं।

धन्यवाद .

Tuesday, December 3, 2019

RTO ऑफिसर की नौकरी कैसे पाए - How to get RTO officer job

Written by  
RTO ऑफिसर की नौकरी कैसे पाए, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी कैसे बनें? (How to get RTO officer job) आरटीओ अधिकारी बनने के लिए नौकरी की तैयारी कैसे करें। RTO अधिकारी बनने के लिए क्या करे। (How to become an RTO officer?) क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी की चयन प्रक्रिया और इस लेख से संबंधित सभी जानकारी हिंदी में प्रस्तुत की जा रही है।



RTO ऑफिसर की नौकरी कैसे पाए


हर युवा सरकारी नौकरी पाना चाहता है, लेकिन सरकारी नौकरी पाना इतना आसान नहीं है। इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। जिस पद के लिए आप काम करना चाहते हैं, और जिस विभाग में आप काम करना चाहते हैं, उसके बारे में सभी जानकारी प्राप्त करें। ताकि जिस पद के लिए आप तैयारी कर रहे हैं। उस पद के लिए आवेदन प्रक्रिया से लेकर चयन प्रक्रिया तक सभी जानकारी प्राप्त करें। तभी आप पद से संबंधित चयन प्रक्रिया के लिए तैयारी कर पाएंगे। इसलिए आज हम ऐसी पोस्ट के बारे में जानकारी लाए हैं, जिसके बारे में युवाओं को शायद ही पता होगा। तो चलिए जानते हैं कि आरटीओ अधिकारी की नौकरी कैसे पाए। इसके बारे में।

RTO ऑफिसर की नौकरी कैसे पाए - How to get RTO officer job


कई युवाओं को पता नहीं है कि आरटीओ अधिकारी कैसे बनें? और क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी की नौकरी कैसे पाए। इसके बारे में बहुत अच्छी जानकारी उपलब्ध नहीं है। जिसके कारण कई युवाओं को अपनी रुचि के अनुसार क्षेत्र में नौकरी नहीं कर पाते है। लेकिन आज इस लेख के माध्यम से हम आपको RTO अधिकारी से संबंधित सभी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। ताकि कोई भी युवा अपनी रुचि के अनुसार क्षेत्र में आसानी से नौकरी पा सके और अपना उज्जवल भविष्य बना सके।

हालांकि इस क्षेत्र में नौकरी पाना इतना आसान नहीं है, इसके लिए आपको अपनी पढ़ाई में अधिक मेहनत करनी होगी। क्योंकि इस विभाग में सबसे महत्वपूर्ण लिखित परीक्षा है, जिसके लिए आपको इस विभाग में नौकरी पाने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। इस विभाग में, लिखित परीक्षा, साथ ही शारीरिक परीक्षा महत्वपूर्ण है, जिसके तहत आपको शारीरिक रूप से स्वस्थ होना होगा। तो आइए जानते हैं कि क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी कैसे बनें? इसके बारे में।

क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी कैसे बनें? - How to become an RTO officer?


यदि आप आरटीओ अधिकारी बनना चाहते हैं तो आप सीधे आरटीओ अधिकारी नहीं बन सकते। इसके लिए, आपको पहले एमवी या एआरटीओ के पद के लिए चयनित होना होगा। यदि आप MV या ARTO के पद के लिए चुने जाते हैं तो कुछ वर्षों के बाद आपको आपके योग्यता के अनुसार RTO अधिकारी के लिए चुना जाएगा। (How to get RTO officer job)

क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी के कार्य - How to get RTO officer job



किसी भी वाहन संबंधी दस्तावेज को तैयार करने का कार्य क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी के पास है। यदि आप जानना चाहते हैं कि आरटीओ अधिकारी कौनसे  दस्तावेज तैयार करते हैं। तो उसकी जानकारी नीचे दी गई है। (How to become an RTO officer?)

  • ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का कार्य आरटीओ अधिकारी के पास होता है।
  • वाहन का पंजीकरण करना । 
  • वाहन बीमा बनाने का कार्य आरटीओ अधिकारी करते है। 
  • वाहन प्रदूषण जांच करने का कार्य। 

RTO ऑफिसर के लिए शैक्षिक योग्यता 


  • आरटीओ अधिकारी यह एक क्लास टू पोस्ट है, इसके लिए किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएट होना अनिवार्य है।
  • कंप्यूटर का ज्ञान होना चाहिए।
  • अंग्रेजी भाषा का ज्ञान होना चाहिए।

RTO ऑफिसर के लिए आयु सीमा 


  • आवेदक की आयु सीमा 21 वर्ष से 30 वर्ष तक होनी चाहिए। 
  • ओबीसी आवेदकों के लिए आयु सीमा में 3 वर्ष की छूट है।
  • एससी / एसटी आवेदकों के लिए आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट है।

RTO ऑफिसर के लिए शारीरिक योग्यता 


  • उम्मीदवार शारीरिक और मानसिक रूप से फिट होना चाहिए।
  • उम्मीदवार की ऊंचाई पद के लिए निर्धारित अनुसार होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार को नशे की लत नहीं होनी चाहिए। 
  • उम्मीदवार किसी भी गंभीर बीमारी से पीड़ित नहीं होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को किसी भी प्रकार की आंखों की समस्या नहीं होनी चाहिए।

क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी चयन प्रक्रिया 




आरटीओ अधिकारी बनने के लिए, आपको पढ़ाई पर कड़ी मेहनत करनी होगी क्योंकि लिखित परीक्षा पहले चयन प्रक्रिया में ली जाती है। (How to become an RTO officer?)

लिखित परीक्षा 
  • सामान्य ज्ञान  कुछ प्रश्न पूछे जाते है। 
  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय वर्तमान घटनाक्रम कुछ प्रश्न पूछे जाते है। 
  • इन विषयों पर कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं: इतिहास, भूगोल, आर्थिक और सामाजिक विकास।
  • पर्यावरण और पारिस्थितिकी पर कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • अंग्रेजी भाषा पर कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • लिखित परीक्षा 200 अंकों की होती है और कुल 2 घंटे की होती है।

शारीरिक परीक्षा 


अच्छे अंकों के साथ लिखित परीक्षा पास करने के बाद, आपको शारीरिक परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा। शारीरिक परीक्षा में आपको सभी परिक्षण को पास करना होगा तभी आपको आगे की प्रक्रिया के लिए बुलाया जाएगा। (How to get RTO officer job)

साक्षात्कार परीक्षा 


अच्छे अंकों के साथ शारीरिक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद, आपको साक्षात्कार के लिए बुलाया जाएगा। इस परीक्षा में आपसे कुछ प्रश्न पूछे जाएंगे, जिसमें आपको सही उत्तर देकर अच्छे अंक प्राप्त करने होंगे। 

यदि आप तीनों परीक्षाओं को अच्छे अंकों से पास करते हैं, तो आपको आरटीओ अधिकारी के लिए चुना जाएगा।

RTO ऑफिसर मासिक वेतन 


आरटीओ अधिकारी का वेतन बहुत अच्छा होता है। उनमें कई पद होते हैं और उनकी योग्यता के अनुसार मासिक वेतन दिया जाता है। आरटीओ अधिकारी का मासिक वेतन 20 से 35 हजार रुपये तक होता है। (How to become an RTO officer?)

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए नौकरी की तैयारी कैसे करें 


  • करंट अफेयर्स बनाये रखने के लिए हर दिन अखबार पढना अनिवार्य हैं।
  • आरटीओ अधिकारी के पुराने प्रश्न पत्र जमा करें और उन्हें हल करने का प्रयास करें। अगर जवाब नहीं मिलता है तो इंटरनेट की मदद लें।
  • अंग्रेजी विषय का रोजाना अध्ययन करें, अंग्रेजी विषय न समझें। तो अंग्रेजी कोचिंग क्लासेस की मदद लें।
  • रोजाना तार्किक क्षमता और गणित के प्रश्नों को हल करे। ताकि आपकी तर्क क्षमता और गणित विषय पर अच्छी पकड़ रहे।

अनमोल शब्द 

प्रिय पाठकों, हमें खुशी है कि यह लेख "RTO ऑफिसर की नौकरी कैसे पाए" कई उम्मीदवारों के लिए उपयोगी साबित हुआ है। अगर आपको (How to get RTO officer jobor ((How to become an RTO officer? in Hindi) यह लेख पसंद आया है, तो इसे अपने परिचितों और सहपाठियों के साथ साझा करें। इसके अलावा, यदि आप MotivationalArticle, Sports Article, Scheme Article आदि से संबंधित जानकारी चाहते हैं, तो आप हमारी वेबसाइट www.indiandewa.com पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं।

धन्यवाद।